Hindi Ya Hinglish : Kis Bhasha Me Blogging Kare ? Kya Hai Behtar

Hindi Ya Hinglish: Hello Friends आज के इस Article में हम एक बहुत  Important और Basic Topic पर आपके साथ Information Share कर रहे हैं जिसका नाम है Hindi Ya Hinglish अब सबसे पहले हम आपको बता दें की लगभग सभी Blogger जो की अभी Blogging Start करने के बारे में सोच रहे हैं उनका सबसे पहला सवाल आज यही होता है की उन्हें अपना Blog Hindi में लिखना चाहिए या फिर Hinglish में और साथ ही इन दोनों Language में उनके लिए कौन सी Language ज्यादा बेहतर हो सकती है।

Hindi Ya Hinglish

Hindi Ya Hinglish

सबसे पहले हम बात करते हैं Hindi Ya Hinglish के Basics की तो Hindi India में बोली जाने वाली आम भाषा है जिसे सबसे ज्यादा लोग बोलचाल के लिए इस्तिमाल करते हैं, वहीँ दूसरी तरह Hinglish Social Media Sites पर बात करने के लिए इस्तिमाल की जाती हैं।

ऐसे में सबसे पहला सवाल यह आता है कि Hindi तो लोग सिर्फ बोलना और समझना पसंद करते हैं लेकिन Social Media पर बात करने के लिए सभी लोग Hinglish भाषा का इस्तिमाल करते हैं, तो Beginners के अनुसार Hinglish Blog ज्यादा बेहतर हो सकते हैं क्योंकि Internet पर लोग इसी भाषा का इस्तिमाल करते हैं।

अब बात करें Professionals की, जो की Regular Blogging करते हैं अब अगर उनसे पूछे या देखें तो वह हमेशा अपना Blog Hindi Language में ही लिखना पसंद करते हैं। जिस कारण Hindi Ya Hinglish Language के विषय में सभी Beginners Confuse हो जाते हैं, की आखिर उन्हें अपने Blog के लिए किस भाषा का इस्तिमाल करना चाहिए तो चलिए पहले इन दोनों Language के बारे में थोड़ी Basic Information ले लेते हैं।

Hindi

Hindi India में बोली वा समझी जाने वाली मुख्य भाषा है, ज्यादातर शहरों में लोग Hindi भाषा में बात करना अधिक पसंद करते हैं और अब अगर Google पर Hindi भाषा की Searches की बात करें तो आज भारत में एक दिन में लाखों लोग Hindi Content को Search करते हैं।

Hinglish

Hinglish Social Media पर लिखी जाने वाली एक भाषा है जिसका उपयोग आज लोगों से संपर्क करने या अपनी बात उनके सामने रखने की लिए किया जाता है।

हिंदी भाषा को Hinglish के रूप में लिखना बहुत ही ज्यादा आसान है जैसे: हमें अपने किसी मित्र से पूछना की “तुम कैसे हो ?” तो उसे Hinglish Language में “Tum Kaise Ho ?” लिख सकते हैं। जिससे हमारा मित्र यह समझ जाता है कि हम उससे क्या पूछ रहे। हैं और वह उसका उत्तर हमें दे देता हैं।

Important Points in Hindi Ya Hinglish

Hindi Ya Hinglish भाषा में अपना Blog Create करने से पहले आपको निचे दिए गए 2  Points को पहले समझ लेना चाहिए-

Comfortable for Reading

सबसे पहले आपको बता दें किसी भी Blog से Earning सिर्फ तब होती है जब लोग उस Website पर जाते हैं और कुछ देर आपके द्वारा Share किये गए Content को Read करते हैं।

ऐसे में सबसे पहले आपको यह समझना होगा की लोग किस Language के Content को पढ़ना अधिक पसंद करते हैं। क्योंकि Hindi या Hinglish दोनों ही Hindi Language को Represent करती है ऐसे में Readers क्या पढ़ना पसंद करते हैं यह समझना आपके लिए बहुत ही जरुरी हो जाता है।

हम आपको यहाँ एक Simple सा Question पूछ लेते हैं जिससे आपको यह बिलकुल अच्छी तरह से समझ आ सकता है- क्या आप बता सकते हैं कि हमारे देश में Newspaper और Books Hindi Language में ही क्यों छपते हैं ?

अगर लोग Hinglish Language को पसंद करते हैं तो Newspapers को भी Hinglish Language में ही छापना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं है, तो सवाल आता है क्यों ?

क्योकि Hinglish भाषा में लिखे गए शब्द कभी-कभी भ्रम (Confusion) बना देते हैं, जिसे आपने Social Media पर कई बार देखा भी होगा ऐसे में अगर आप किसी के सामने अपनी बात रखते हैं और वह उसे पढ़ने के बाद अधिक Confuse हो जाता है तो वह आपके Website पर दोबारा आएगा भी नहीं, इसलिए हमारे According आपको Hindi Language में ही अपना Blog Create  करना चाहिए।

Content for SEO

अब  बात करें SEO (Search Engine Optimization) की तो Google और Adsense के अनुसार Hindi Language मान्य है और Hinglish Language का कहीं भी जिक्र  नहीं किया गया है। ऐसे में एक बात यह साफ़ हो जाती है की Google Hindi भाषा के Content को Support करता हैं।

Confusion: यहाँ एक  सबसे बड़ा Confusion यह आ जाता हैं की लोग तो किसी भी चीज को Search करने के लिए Hinglish Language का ही इस्तिमाल करते हैं तो क्या Hindi Language में लिखे गए Content Google  पेज में Show होंगे ?

Answer: इस चीज को हम आपको Prof के साथ Clear कर देते हैं, आपने देखा होगा की जब आप Google पर किसी भी Content को Hindi में Search करते हैं तब आपको सबसे ऊपर Hindi के Content ही अधिक मिलते हैं क्योंकि Hindi को Google का Support हैं।

अब दूसरी तरफ आपको बहुत सारे Content Hinglish में भी मिल सकते हैं लेकिन इसका यह मतलब बिलकुल नहीं होता है की Hinglish Content को आसानी से Rank कराया जा सकता है।

Prof: आप हमारे Blog पर Publish किसी भी Content को Google पर Search करके देख सकते हैं आपको ज्यादातर Blog Post First Page पर ही मिल जाते हैं।

अब इसका कारण आप समझ गए होंगे की आखिर सभी Professional Bloggers Hindi Language में ही अपने Blog Post को क्यों लिखते हैं।

हम आपको एक चीज और भी Clear कर दें की Content को लिखना और उसे Rank कराना सिर्फ और सिर्फ लोगों और Google पर Depend करता हैं इसलिए SEO के Point of View से हम आपको यही Suggest करेंगे की Google Hindi Content को Support करता है इसलिए SEO के लिए Hindi आपके लिए बेहतर हो सकती है।

In Conclusion

ऊपर बताई गयी सभी जानकारी के अनुसार आप समझ गए होंगे की Hindi Language आखिर किस तरह से Hinglish से अधिक उपयुक्त हो सकती हैं। लेकिन आप अपना Blog उसी Language में लिखें जिसे लिखने और समझाने में आपको सहूलियत होती है क्योंकि दोनों ही अपनी जगह पर ठीक है।

आप इन दोनों में किसी भी Language का इस्तिमाल अपने Blog के लिए कर सकते हैं यह बिलकुल भी जरुरी नहीं है की आप अपना Article Hindi में ही Publish करें तभी वह Rank कर  सकता है।

अब इस Topic से Related आपका कोई और सवाल है तो आप हमें Comment Box में पूछ सकते हैं धन्यवाद।

You May Also Read

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here